ProNews

- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

प्रियंका गांधी बनारस या गोरखपुर से चुनाव लड़ेंगी, राजनीतिक एंट्री

0 339

- Advertisement -

प्रियंका गांधी कांग्रेस महासचिव बन गई हैं। प्रियंका को उत्तरप्रदेश के उस हिस्से का प्रभारी बनाया गया है जहां से आठ लोग प्रधानमंत्री बन चुके हैं। मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी वाराणसी से सांसद है। योगी आदित्यनाथ भी गोरखपुर से पांच बार के सांसद रह चुके हैं। कांग्रेस राज्य में बुरे दौर से गुजर रही है। यूपी विधानसभा चुनावों में पार्टी को महज 7 सीटें और 6.25% वोट ही मिले थे। लोकसभा चुनाव में भी पार्टी बस रायबरेली और अमेठी की सीट ही जीत पाई थी। राज्य में भाजपा की सरकार है और चुनावी रैलियों के दौरान प्रियंका ही निशाने पर होंगी। प्रियंका के सामने न केवल इन हमलों से पार पाने की चुनौती होगी बल्कि उन्हें मोदी और योगी को उनके ही गढ़ में घेरना होगा। 2014 के चुनाव में कांग्रेस ने क्षेत्र की 30 लोकसभा सीटों में से एक पर भी जीत दर्ज नहीं की थी. वहीं 2017 के विधानसभा चुनाव में पार्टी ने महज 7 सीटों पर जीत हासिल की थी. 2012 के विधानसभा चुनाव की बात करें तो पार्टी ने पूर्वी यूपी की 141 सीटों में सिर्फ 12 पर जीत दर्ज की थी. हालांकि, प्रियंका के कमान संभालने के बाद कांग्रेस राज्य के विभिन्न इलाकों में वह बीजेपी के बड़े नेताओं को सीधी टक्कर देने की उम्मीद कर रही है. उदाहरण के लिए गाजीपुर से मनोज सिन्हा, देवरिया से कलराज मिश्र, सुल्तानपुर से वरुण गांधी, मिर्जापुर से अनुप्रिया पटेल और गोरखपुर से योगी आदित्यनाथ. लेकिन 2012 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को करारी हार का सामना करना पड़ा था. प्रियंका ने 10 में से 10 का टारगेट रखा था लेकिन पार्टी केवल एक सीट जीतने में कामयाब हुई थी

- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.