ProNews

- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

महिलाओं के लिए लांच हुई राष्‍ट्रीय महिला पार्टी, अगले साल लोकसभा चुनाव भी लड़ेगी

0 394

- Advertisement -

नई दिल्ली: देश में आधी आबादी महिलाओं की है, फिर भी विधानसभा और लोकसभा में उनका प्रतिनिधित्व महज 11 फीसदी है। उन्हें एक तिहाई आरक्षण के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। महिलाओं में साक्षरता 50 प्रतिशत भी नहीं है, जबकि देश के 86 प्रतिशत पुरुष साक्षर हैं। उन्हें एक तिहाई आरक्षण के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। महिलाओं में साक्षरता 50 प्रतिशत भी नहीं है, जबकि देश के 86 प्रतिशत पुरुष साक्षर हैं। इस पर दल के प्रतिनिधियों ने कहा कि ताकि महिलाएं अपने अधिकारों के प्रति सजग हों। वे जाति, धर्म जैसे भावनात्मक मुद्दों में न बहें, बल्कि अपने अधिकारों की रक्षा करने वाली पार्टी को ही वोट दें।अमेरिका में दशक पुरानी नेशनल वुमेन्स पार्टी से प्रेरित होकर एक 36 वर्षीय डॉक्टर एवं सामाजिक कार्यकर्ता ने संसद में महिला आरक्षण और कार्यस्थल पर महिलाओं के उत्पीड़न जैसे मुद्दों के खिलाफ लड़ाई के मकसद से यहां मंगलवार को सिर्फ महिलाओं की पार्टी की शुरुआत की.

- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.