ProNews

- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

मायावती-अखिलेश के बीच गठबंधन, कल करेंगे संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस

0 370

- Advertisement -

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन अब तय हो गया है, बसपा सुप्रीमो मायावती व समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव कल 12 जनवरी यानी शनिवार को इसकी औपचारिक घोषणा करेंगे। इसके लिए दोनों नेता लखनऊ के ताज होटल में शनिवार दोपहर 12 बजे संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस करेंगे। पहले कहा जा रहा था कि गठबंधन का एलान मायावती के जन्मदिन 15 जनवरी को होगा। यूपी में लोकसभा की 80 सीटें है। सपा बसपा के साथ आने से अब भाजपा के लिए 2014 में किये गए प्रदर्शन को दोहराना अधिक चुनौतीपूर्ण होगा। 2014 में उप में एनडीए गठबंधन ने 73 सीटें जीती थी। कल प्रेस कांफ्रेंस में सीटों के बंटवारे की भी घोषणा हो सकती है। अभी कयास लगाए जा रहे हैं कि दोनों पार्टियां 37-37 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है। रायबरेली और अमेठी के सीट कांग्रेस के लिए छोड़ी जा सकती है। जबकि रालोद को तीन सीटे दी जा सकती हैं। सूत्रों ने बताया कि अन्य साथियों के महागठबंधन में नहीं जुड़ने की स्थिति में 1-1 सीटें सपा और बसपा आपस में बांट लेंगी. कांग्रेस पार्टी को फिलहाल दो से ज्यादा सीटें देने से दोनों नेताओं ने इनकार कर दिया है. माना जा रहा है कि सपा-बसपा के साथ रालोद का जुड़ना तय है. हालांकि कांग्रेस पर संशय बना हुआ है. जानकारी के अनुसार, कांग्रेस सीटें बढ़ाने की मांग कर रही है लेकिन दोनों दल इस पर राजी नहीं है. मायावती कांग्रेस को ज्‍यादा भाव नहीं दे रही हैं. मायावती बृहस्पतिवार को लखनऊ पहुंची जिसके बाद से ही राजनैतिक सरगर्मियां बढ़ी हुई हैं।उन्होंने 20 जनवरी को बसपा के पदाधिकारियों की बैठक बुलाई है। इसमें वह चुनावी रणनीति का खुलासा करेंगी। 22 जनवरी को वह भाईचारा कमेटी की बैठक में लोकसभा चुनाव को लेकर दिशा-निर्देश देंगी। पहले यह बैठक 10 जनवरी को प्रस्तावित थी। इनमें बसपा के सभी प्रमुख नेता शामिल होंगे। वहीं, अखिलेश यादव आज कन्नौज में ‘समाजवादी संवाद’ कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।

- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.